types of cyber attack in hindi – IT Trends

0
70
cyber attack

Introduction cyber attack :

cyber attack : किसी भी information को hack करके उसका गलत उपयोग करते हैं तो उन hackers के द्वारा की गयी इस धोकधड़ी को ही हम साइबर क्राइम (cyber crime) कहते है।

Hackers द्वारा Information को अलग अलग प्रकार से cyber attack करके चुराया जाता है जो कि इस प्रकार है:

IT Trends notes : type of attack in hindi – dca, pgdca, mca,msc (cs), bca, mcu

Spyware :

Spyware एक ऐसा malware है जो किसी computer में user की इज़ाज़त के बिना ही install हो जाता है और फिर गुप्त रूप से उस कंप्यूटर की सारी information अपने मालिक को देता रहता है।

जिसने भी उस malware को बनाया है या भेजा है इसका उपयोग कुछ लोग visitor को लालच देकर download करवाते है और जैसे ही वह अपने कंप्यूटर में उसको install करते है तो यह malware आपकी सारी information अपने मालिक को भेजता रहता है|

वही कुछ लोग malware का उपयोग बड़ी बड़ी companies या office में अपने सभी कर्मचारियों के कंप्यूटर पर नजर रखने के लिए भी करते है की वह internet पर सही से कम कर रहे है या नही इसमें user को पता भी नही चलता की वह उस system में जो कुछ भी कर रहा है उसकी सारी information गुप्त तरीके से किसी के पास भेजी जा रही है|

Spyware Work :

1.Spyware Malware का एक प्रकार है जो computer पर install किया जाता है।

2.Users की गैर-जानकारी मे उनके बारे मे सूचनाएं एकत्र करता है।

3.Spyware चुपके से user के computer पर install किया जाता है।

4.Spyware विभिन्न प्रकार की व्यक्तिगत जानकारी एकत्र करता है। जैसे कि  Internet Suffering की आदतें और जिन Sites पर जाया जाता है।

5.Spyware को computer स्थापन को बदलने के लिए जाना जाता है। इससे connection की गति और Homepage Programs की क्षमता धीमी हो जाती है।

6. इस प्रकार Spyware के माध्यम से cyber attack किया जाता है |

Malware :

Malware एक Computer Software है। इनका प्रयोग Computer पर किसी की पहचान चोरी करने या गोपनीय जानकारी मे सेंध लगाने के लिए किया जाता है।

यह एक तरह का दूषित software होता है। जिसका एक ही मकसद  होता है लोगो के computer को नुकसान पहुंचाना। आपके डाटा को चुराना, password चुराना या आपके computer के डाटा को मिटाना या delete कर देना। यह software अपने आप नही बनते, इनको किसी developer या Hacker द्वारा ही बनाया जाता है।

जिससे वह हमारे Computer को हानि पहुंचा सके| Malicious Software आपके Computer मे कई तरीको से आ सकते है। जैसे या तो आप खुद ही उन्हें गलती से download कर ले या किसी Spam Email के ज़रिये या किसी website के ज़रिये । कई Website है जिन पर Malicious Software उपलब्ध है।

Logic Bombs :

Logic bomb एक Operating System , Software Application मे डाले गए कोड का एक टुकड़ा है जो निश्चित मात्रा के बाद एक दुर्भावनापूर्ण कार्य लागू करता है या विशिष्ट स्थितियों को पूरा किया जाता है।

Logic bomb अक्सर Virus और Trojan Horse के साथ उपयोग किए जाने से पहले अधिकतम नुकसान करने के लिए उपयोग किये जाते है।

Spam Mail :

Internet पर हर रोज़ करोड़ो mail भेजी और receive की जाती है। इनमे से ज्यादातर Spam Mail होते है। जो अपने आप Mail मे आ जाती है। इस तरह के Mail मे Company के Offer या विज्ञापन होते है। Spam Mail को unk Mail के नाम से भी जाना जाता है।

Spammers अपनी इच्छा के मुताबिक email के जरिये एक ही समय मे एक साथ कई लोगो को  Spam EMail भेजते है। जितने भी  E-Mail भेजे जाते है, उनमे से करीब 78% Spam Mail होते है।

Denial of Service :

Denial of Service को DOS Attack भी कहते है। यह एक प्रकार से Cyber हमला है, जिसमे अपराधी Internet से जुड़े लोगो की अस्थायी रूप से User को Machine या Network संसाधन अनुपलब्ध करना चाहता है|

इस Attack मे एक author रहता है जो अपनी  request Server को प्रदान करता है। जब आप Server पर request send करते हो तो कभी-कभी आपको Screen पर display होता है, “Server is not found 404 error” यह DOS attack होता है।

इस attack मे बहुत अधिक संख्या में एक साथ Request भेजता है । प्रत्येक server की कोई ना कोई limit होती है, अगर उस limit से ज्यादा request आती है, तो वह एक massage show करता है कि  Server is not found, error 404, जब Author खुद  request send करता है तो उसकी  request accept करने के लिए server के पास space नही होती तो वह 404 message show करता है जिसे DOS attack कहते है।

इसे भी पढ़े :